गोले का आयतन ज्ञात करना - UPS PURVA ,MALIHABAD, LUCKNOW

Breaking

UPS PURVA ,MALIHABAD, LUCKNOW

UPSPURVA, Malihabad, Lucknow

Transforming Basic Education

UPS PURVA

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

गुरुवार, 26 जुलाई 2018

गोले का आयतन ज्ञात करना

उद्देश्य :

 गोले की त्रिज्या के पदों में इसके आयतन के सूत्र का एक सांकेतिक नमूना प्रदान करना।

 

संबंधित शब्दावलियां

गोला :

                                                                                                               

                                                                          

गोला एक पूरी तरह से गोल ज्यामितीय और वृत्ताकार वस्तु है जो त्रि-आयामी फैलाव में होता है और जो संपूर्ण रूप से गोल गेंद की तरह दिखाई देता है।  

व्यास :  

व्यास एक सीधी रेखा होती है जो वृत्त या गोले के केंद्र से गुजरती है और प्रत्येक सिरे पर परिधि अथवा सतह से मिलती है।  

त्रिज्या :  

किसी गोले की त्रिज्या केंद्र और वृत्त या गोले पर स्थित किसी बिंदु के बीच एक रेखाखंड होती है।  

आयतन : 

गोले के आयतन को निम्न अनुसार परिभाषित किया जाता है :  V = ⁴⁄₃πr³.

इस समीकरण में "V” आयतन को और "r” गोले की त्रिज्या को निरूपित करता है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Responsive Ads Here